Gram Sabha | ग्राम सभा और उसके काम की जानकारी

नमस्कार दोस्तों Gram Sabha In Hindi में आपका स्वागत है। आज हम ग्राम सभा और उसके काम की जानकारी बताने वाले है। हमारा भारत देश पर जनता का राज चलता है। जनता जिसको चुनाव में पसंद करती है। वैसे ही ग्राम सभा किसी एक गांव या पंचायत का चुनाव करने वाले गाँवों के समूह की मतदाता सूची में शामिल व्यक्तियों से मिलकर बनी एक संस्था है। ग्राम सभा पंचायतीराज की मूलभूत इकाई और ग्राम सभा प्रत्येक राजस्व ग्राम या वन ग्राम में उस गाँव के वयस्क मतदाताओं को मिलाकर तैयार करते है।

Gram Sabha की संरचना

ग्राम सभा का मतलब या ग्राम पंचायत का अर्थ या गठन करने हेतु में किसी एक गाँव या अधिक गाँव के समूहों के मतदाताओ की सूची में शामिल कुल व्यक्तियों की संस्था होता है | ग्राम सभा में कम से कम 200 से ज्यादा लोगो की जनसंख्या होती है। ग्राम सभा एक कॉरपोरेट निकाय है, उसमें ऐसे लोग शामिल हैं जिनके नाम पंचायत की निर्वाचन सूची में शामिल रहते हैं। ग्राम सभा पंचायती राज व्यवस्था का प्राथमिक निकाय है। पंचायती राज की संस्थाएं जैसे कि ग्राम पंचायत एव ब्लॉक पंचायत और का निर्माण निर्वाचित प्रतिनिधियों से होता है।

Gram Sabha

इसके बारे में भी पढ़ें – खेती के लिए लोन कैसे लें

Gram Sabha के कार्य

योग्य एव जरुरी लाभार्थियों को योजनाओं का लाभ दिलाना होता है। 

कार्यक्रमो और विकास योजनाओं के लिए लाभार्थियों की पहचान करनी होती है।

ग्रामीण विकास कार्यों में सहायता करनी होती है। 

शिक्षा, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण के सभी कार्यक्रमों में सहयोग देना होता है।  

विकास संबंधित कार्यों की योजना बना करके उसे पारित कराना होता है। 

ग्राम पंचायत के सदस्यों से ग्राम पंचायतों के कामों, आमदनी और खर्चों के बारे में जानकारी लेना  

ग्राम पंचायत विस्तार में श्रमदान करके विकास योजनाओं को तेज बनाना होता है। 

उसके अलावा निगरानी समिति बना कर उसकी रिपोर्ट पर विचार-विमर्श क उसके लिए सिफ़ारिश करनी होती है। 

प्रौढ़ शिक्षा का कार्यक्रम की व्यवस्था करती है।

ग्रामसभा गांव की सभी कामों की निगरानी करती है।

ग्राम सभा की फोटो गैलरी

इसके बारे में भी पढ़ें – जेसीबी मशीन का फुल फॉर्म एव जानकारी

ग्रामसभा की विशेषताएं

वह ग्रामसभा के सदस्यों के प्रति उत्तरदाई होता है। 

ग्रामसभा एक स्थाई निकाय है वह कभी भंग नहीं होती है। 

ग्रामसभा एक निगरानी निकाय है और ग्राम पंचायत के कामों का खयाल रखती है।

उसके सदस्यों को पंचायत के प्रतिनिधियों को चुनने का अधिकार है। 

ग्रामसभा के सदस्यों का चुनाव नहीं होता है। 

ग्रामसभा में ग्रामीण विकास मंत्रालय ग्राम विकास अधिकारी पसंद करते हैं। 

सभी मतदाता ग्रामसभा के आजीवन सदस्य होते हैं। 

ग्रामसभा में सामान्य जनता की उपस्थिति होती है। 

ग्राम सभा

इसके बारे में भी पढ़ें – अदरक की खेती कैसे होती है

Gram Sabha की बैठक

आपको बतादे की ग्राम सभा की बैठक साल में दो बार होनी आवश्यक है। उसकी जानकारी देने सदस्यों को बैठक की खबर देने 15 दिन पहले नोटिस भेजनी होती है। ग्राम सभा की बैठक ग्राम प्रधान बुला सकते है। उसके कारन वह कोईभी समय बैठक का आयोजन कर सकते  है। एक बैठक ख़रीफ़ फसल तैयार होने के बाद एव दूसरी रबी फसल तैयार होने के बाद होती है। ग्राम सभा की अध्यक्षता प्रधान या उपप्रधान करता है। वह दोनों की अनुपस्थिति में ग्राम पंचायत के किसी सदस्य को प्रधान पसंद कर सकते है। 

जि़ला पंचायत राज अधिकारी और क्षेत्र पंचायत से लिखित रूप से मांग करने पर और ग्राम सभा के सदस्यों की मांग पर प्रधान एक महीने के अंदर बैठक बुलाते है। उसमे अगर ग्राम प्रधान बैठक आयोजित नहीं करता तो  उस तारीख़ से दो महीने के अंदर आयोजित होती है। ग्राम सभा की बैठक के लिए कुल सदस्यों की संख्या के 20 % भाग की उपस्थिति जरुरी है।

इसके बारे में भी पढ़ें – बायो फ़र्टिलाइज़र (जैव उर्वरक) क्या है – प्रकार, प्रयोग और लाभ

Gram Sabha In Hindi Video

Interesting Fact

  • ग्राम सभा एक कॉरपोरेट निकाय है जिसमें ऐसे सभी लोग सम्मिलित हैं। 
  • ग्राम सभा को भारतीय संविधान के अनुच्छेद 243(b) में परिभाषित किया गया है। 
  • सभी ग्राम सभाए मतदाताओं से बनती है।
  • उसमे पंचायत क्षेत्र की वोटर लिस्ट में दर्ज सभी लोग सदस्य होते हैं।
  • 18 साल से कम उम्र के लोग ग्राम सभा के सदस्य नहीं बन सकते है।
  • ग्राम सभा की बैठक 3 महीने में 1 बार बुलाई जाती है। 
  • ग्राम सभा का आयोजन दिन में सूर्योदय के बाद और सूर्यास्त से पहले करते है।
  • सरपंच का अनुमोदन मिलने के बाद पंचायत सचिव को ग्राम सभा का गठन करना चाहिए।
  • बैठक की तारीख से 5 दिन पहले कार्य अवधि के समय सरपंच के पास लिखित अनुरोध सौंपना है।
  • ग्राम का मुखिया ग्राम प्रधान, सरपंच अथवा मुखिया के नाम से जाना जाता है। 

FAQ

Q .ग्राम सभा क्या है?

ग्राम सभा पंचायतीराज की मूलभूत इकाई है, जो गाँव के मतदाताओं से तैयार होती है।

Q .ग्राम सभा के सदस्य कौन होते हैं?

गाँव के मतदाता ग्राम सभा के सदस्य होते हैं। 

Q .ग्राम सभा कब होती है?

ग्राम सभा की बैठक समय-समय पर तीन महीने की अवधि में आयोजित होती है। 

Q .ग्राम सभा में कौन भाग ले सकता है?

गांव सभा में ग्राम पंचायत के क्षेत्र में शामिल किसी गांव या गांवों के समूह से संबंधित मतदाता शामिल होंते है।

Q .ग्राम सभा के लिए किससे संपर्क करें?

गांव सभा कार्यक्रम के बारे में जानने के लिए गांव पंचायत सचिव, गांव पंचायत अध्यक्ष या गांव पंचायत सदस्य से संपर्क कर सकते हैं।

Q .ग्राम सभा का आयोजन कौन करता है?

पंचायत सचिव सरपंच, ग्राम सभा के सदस्य ग्राम सभा का आयोजन करते है। 

Q .ग्राम सभा से क्या तात्पर्य है ?

ग्राम सभा शब्द को भारत के संविधान में अनुच्छेद 243 (बी) के तहत परिभाषित किया गया है। 

Q .ग्राम पंचायत क्या है?

पंचायती राज शासन की एक प्रणाली है जिसमें ग्राम पंचायत प्रशासन की बुनियादी इकाइयाँ हैं। 

Conclusion

आपको मेरा आर्टिकल Gram Sabha In Hindi बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा । 

लेख के जरिये हमने What is gram sabha, Gram sabha meaning और Gram panchayat से सम्बंधित जानकारी दी है।

अगर आपको अन्य किसी खेत उत्पादन के बारे में जानना चाहते है। तो कमेंट करके जरूर बता सकते है।

Note

आपके पास Difference between gram sabha and gram panchayat की कोई जानकारी हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो दिए गए सवालों के जवाब आपको पता है। तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद।

Google Search

What is the difference between gram sabha and gram panchayat, panchayat, up panchayat chunav, home minister of india, rajya sabha, gram panchayat, gram sabha vs gram panchayat, gram sabha upsc, gram sabha and gram panchayat, gram sabha consists of, what is gram sabha class 10, gram sabha meeting

Functions of gram sabha, members of gram sabha, रूढ़िगत ग्राम सभा क्या है, ग्राम सभा pdf, ग्राम सभा की बैठक कब कब होती है, ग्राम सभा और ग्राम पंचायत में अंतर, ग्राम सभा नियम, ग्राम सभा के अधिकार क्या है, ग्राम सभा प्रस्ताव फॉर्म PDF UP, ग्राम सभा के अधिवेशन के लिए गणपूर्ति संख्या कितनी होती है

इसके बारे में भी पढ़ें – प्याज की खेती कैसे करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.