How to Start Dairy Farming in India | डेयरी फार्मिंग बिजनेस कैसे शुरू करें

Dairy Farming Business In Hindi में आपका स्वागत है। आज हम डेयरी फार्म हाउस के कारोबार को खोलने और डेयरी फार्मिंग व्यवसाय कैसे शुरू करें की जानकारी बताने वाले है। आज के समय में दुग्ध उत्पादन यानि Dairy Farming हमारे भारत में बहुत लाभकारी व्यापार है। क्योकि अगर आप यह व्यवसाय को बहुत अच्छे से और सही तौर तरीके से करते है। तो बहुत अच्छे से और professional तरीके से लाखो की कमाई कर सकते है। 

हमारे भारत में ग्रामीण इलाको में आज भी कई लोग सिर्फ सहायक कमाई के लिए ही Dairy Farming loan भी करते है। मगर अगर तोडा सा भी ख्याल रखा जाये तो वही से किसान लाखो की कमाई कर सकता है। आज हम अच्छे ढंग से डेयरी फार्म गाय पालन व्यवसाय कैसे शुरू करे की सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले है। तो चलिए govt loan for dairy farming, डेयरी फार्मिंग क्या है की जानकारी के साथ full income वाले business को बताते है। 

What is Dairy Farming Project –

जैदुनिया भर में पशुपालन करके उस पशु से दूध निकलने की क्रिया को डेरी Farming यानि पशुपालन कहते है। कोई भी पशु को आप दूध प्राप्त करने के आशय से पालते है। दुग्ध उत्पादन के लिए आप गाय, भैंस, बकरी, भेड़ या ऊटनी भी पाल सकते है। उस पशु को आप सही तौर तरीके से खाना और पानी पिलाते है। और उसकी देखभाल करते है। तो आपको ज्यादा दूध उत्पादन हो सकता है। यानि पालतू जानवरों को पाल के दुग्ध उत्पादन करने की क्रिया को ही Dairy फार्मिंग कहते है।

How to Start Dairy Farming in India

इसके बारेमे भी पढ़िए – कीवी की खेती कैसे करे,जानिए किस्में, देखभाल और पैदावार

Dairy Farming Benefits in Hindi

  • पशुपालन से उत्पादित दूध को बेचकर आपकी कमाई कर सकते है।
  • आप ज्यादा पशु पालने की क्षमता नहीं रखते तो 1-2 पशु पालकर भी व्यवसाय कर सकते है। 
  • पशुओं के गोबर से उत्पादित खाद का उपयोग आप खेतों में कर सकते है। 
  • उससे आपके खेत की उर्वरता और उत्पादन क्षमता दोनों बढेंगी।
  • पशुओं के गोबर से गोबर गैस का उपयोग ईधन के लिए आप कर सकते है।
  • पशुपालन के लिए आपको कई Bank से आसानी से लोन भी मिलता है।
  • डेरी फार्मिंग से आप पूरे साल कमाई कर सकते हैं।
  • बड़े किसानो के साथ साथ छोटे किसान भी यह व्यवसाय कर सकते है। 
  • अच्छी नस्ल के विदेशी पशुओं को आप पाल सकते है।

How to Start Dairy Farming –

किसी भी व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको उसकी सम्पूर्ण जानकारी होना बहुत जरुरी है। वैसे ही पशुपालन बिजनेस करने के लिए आपको पहले पशुओं की नस्ल का पता होना जरुरी है। उसके अलावा आपको पशुओं के खाने पानी पिने का इंतजाम और देखभाल का प्रबंधन करना होता है। यह बहुत जटिल प्रक्रिया होती है। सबसे पहले आपको यही करना होता है। बाद में आप यह बिज़नेस कर सकते है।

Dairy Farm Photos

डेयरी फार्मिंग के लिए टिप्स –

  • डेरी फार्मिंग करने के लिए आपको यह व्यवसाय से जुड़े लोगो से मिलना चाहिए। 
  • वहा से आप secret tips को इकट्ठा करना है। 
  • आपको सबसे अच्छी कमाई वाले Farms का भ्रमण जरूर करना चाहिए। 
  • उसमे फार्म का आप बहुत अच्छे से भ्रमण करते समय उसे अच्छे से देखे। 
  • फार्म के पशु चिकत्सको से मिलकर कुछ चर्चा जरूर करले। 
  • पशुओ की खाने की आवस्यकता एव उसमें लगने वाली लागत के बारे में पहले से जाग्रत रहें। 
  • जानवरो को प्रतिकूल मौसम जरूर देना चाहिए। 
  • जिस भी जमीन पर हराचारा का उत्पादन करना होता है उस मिटटी की जांच करवा लें।
  • कृषि विज्ञानं केंद्र से डेरी फार्मिंग की Training जरूर लेना है। 
डेयरी फार्मिंग बिजनेस कैसे शुरू करें

इसके बारेमे भी पढ़िए – परवल की उन्नत तरीके से वैज्ञानिक खेती, फसल प्रबंधन, जानकारी

पशु की नस्ल का चुनाव –

आज हमारे भारतीय पशुओ के साथ साथ अनेक अंतराष्ट्रीय नस्ल भी बाजार में मिलते है। आपको अच्छी नस्ल के गाय, बकरी, भेड़ या ऊटनी और भैंस को पसंद करके खरीदना होता है। आपको बाजार कीमत की Market Research करके उन्हें खरीदना चाहिए और ज्यादा कीमत के साथ अच्छी नस्लों को पलना होगा। उससे मिलने वाले अच्छी क्वॉलटी के दूध से आप अधिक कमाई कर सकते है। अगर आप चाहे गाय और भैंस दोनों एक साथ पाल सकते है। क्योकि उन दोनों को पलना सेम तरीका होता है।

हमारे भारत में गाय की अच्छी नस्लों की जानकारी बताये तो Red Sindhi, Gir और Sahiwal बताई जाती है उसके साथ अगर आप अन्तराष्ट्रीय गाय की नस्लों को पालना चाहते है। तो आपको Holstein Friesian, Brown swiss और Jersey को खरीद सकते है। यह सभी नस्ल आप बहुत आसानी से पाल सकते है। गाय के साथ अच्छी भैंसों की नस्ल की बात करे तो Nagpuri, Nili Ravi, Murrah, Surti, Mehsani, Jaffarabadi, Bhadwari और Banni है।

Dairy Farm Pictures

पशुओं के लिए आवास –

Housing for dairy farming की बात करे तो पशुओं के लिए अच्छा, स्वच्छ और ठीक ठाक आवास को बनाना बहुत जरुरी है। क्योकि आप का व्यवसाय अगर ज्यादा कमाई वाला बनाना है। तो आपको पशुओ की तबियत का ख्याल रखना बहुत जरुरी है। आपको सबसे पहले आपके पास अच्छे ढंग से व्यवस्थित छप्पर बना होना आवश्यक है। एक पशु के लिए बहार 90 वर्ग फीट खुली जगह और 55 वर्ग फीट जगह छप्पर के अन्दर रखनी चाहिए। ऐसे वस्थित Farm में पाले पशु ही आपको लाखो की कमाई दे सकते है। उसके साथ पानी पिने का कुंड और छप्पर के अन्दर सारी सेवाएँ जैसे की पूरी जगह, शुद्ध हवा का आवागमन बहुत जरुरी है।

डेरी फार्मिंग फोटो

Feeding – पशुओं के लिए खाना

पशुओं की दूध देने की क्षमता को ज्यादा विकसित करने के लिए उन्हें उच्च गुणवत्ता खाना यानि पोषण युक्त खुराक बहुत जरुरी है। उसके लिए आपको हररोज पशुओं को सही मात्रा में पोषण युक्त एव उच्च गुणवत्ता सभर खाना देना है। आपको ज्यादा दूध के लिए हरी घास यानि Green Food भी खिलाना है। यह आपके दूध को बढ़ावा देके आपके खर्चे को कम करता है। आप अगर ज्यादा हरी घास खिलते है। तो यह भी सही नहीं है।

क्योकि कुछ सुखी घास भी बहुत जरुरी है। जिससे पशु की शारीरिक बंधारण को कोई नुकसान नहीं होता है। आप अपने खाली खेत में बहुत आसानी से हरी घास ऊगा सकते है। यही घास को आप पकने पर काट कर संग्रह करके आपके पशुओ को खिला सकते है। एक दूध देने वाले जानवर को सिर्फ 1 लीटर दूध देने के लिए उन्हें तक़रीबन 7 लीटर पानी की जरुरत होती है। उसके लिए आपको अपने जानवरों को हमेशा शुद्ध पानी पिलाना चाहिए।

Dairy Farming Images

इसके बारेमे भी पढ़िए –  परवल की उन्नत तरीके से वैज्ञानिक खेती, फसल प्रबंधन, जानकारी

पशुओं की देखभाल –

Livestock Care की बात करे तो पशुओ की अच्छे से देखभाल करना ही डेयरी फार्मिंग व्यवसाय की मुख्य सफलता है। क्योकि अगर आप अपने पशुधन की अच्छी तरह देखभाल करते है। तो आप अपने व्यवसाय से ज्यादा मुनाफा निकाल सकते है। पहले आपको सभी पशुओ को हर बीमारी से दूर रखना चाहिए। उसके लिए आपको एक डॉक्टर का भी संपर्क रखना चाहिए। क्योकि बाल पशुओ को बीमारीमुक्त रखने के लिए टीकाकरण भी आवश्यक है। जानवर की अच्छी सेहत के लिए पोषण युक्त एव उच्च गुणवत्ता वाला भोजन देना है।

Difficulties in Dairy Farming

  • पशुपालन व्यवसाय की मुख्य कठिनाई यह है की उसमे पढ़े लिखे युवा नहीं रूचि रखते। 
  • अगर कोई भी करता है। तो मज़बूरी में और उसके सही तौरतरीके मालूम नहीं होते। 
  • पढ़े लिखे लोग सिर्फ यह सोचते है की यह सिर्फ अनपढ़ व्यक्तियों के लिए है।
  • भारत में दूध के wholesale price एव retail price में जमीन आसमान का अंतर है।
  • ज्यादातर पशुओं में समय के मुताबिक गर्भ धारण नहीं हो पाता है।
  • जानवर की प्रजनन प्रक्रिया एक जैविक घटना होती है।
  • युवा मज़बूरी में पशुपालन करते  है और उससे उन्हें सकारात्मक परिणाम नहीं मिलते है। 
  • अगर कोई यह व्यवसाय शुरू करता है तो उन्हें समाज का नजरिया ठीक नहीं मिलता हैं।
Dairy Farming Photos

डेयरी फार्मिंग में स्कोप –

पुरे विश्व में हमारा भारत जानवरो की आबादी में सबसे ज्यादा संपन्न है। क्योकि विश्व की तक़रीबन 57.3% भेंसो का पालन पोषण हमारे देश में ही होता है। 2011-12 की साल के एक रिपोर्ट के मुताबिक तीन लाख पांच हज़ार करोड़ का व्यापर सिर्फ दूध का था। प्रतिवर्ष हमारा देश तक़रीबन 12 करोड़ 7 लाख 90 हज़ार टन दूध का उत्पादन करता है। लेकिन यह उत्पादन 2021 में बढ़ कर 18 करोड़ टन होने वाली है। उस अंक से आप पता लगा सकते है। की भारत मे डेरी फार्मिंग का scope यानि संभावनाएं कितनी है।

इसके बारेमे भी पढ़िए –  एलोवेरा की खेती कैसे करें जानकारी, उपयोग और फायदे

How to Start Dairy Farming in India Video –

Dairy farming india Interesting Fact –

  • यह शारीरिक परिश्रम वाला काम है इसलिए अनुभवी एवं मेहनती लोगों को काम करना चाहिए। 
  • नजदीकी पशु चिकित्सकों से मिलकर डेयरी फार्मिंग की संभावनाओं पर बातचीत कर सकते है।
  • व्यवहारिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आपके एरिया में स्थित डेयरी फार्म के की मुलाकात करे।
  • छोटे स्तर पर डेयरी फार्मिंग से दूध उत्पादन शुरू कर सकते हैं। 
  • गाय या भैंस के बारे में जानना और उनकी सही देखभाल करने की अच्छी तकनीक आपके पास होनी चाहिए।
  • दूध के उत्पादन होने पर उसे स्थानीय मार्केट तक पहुंचाना, दूध प्रसंस्करण (Milk Processing) कहा जाता है।
  • अपनी डेरी में 10 पशु पालन चाहते है तो आपको डेरी खोलने में 6 से 7 लाख रुपये लगाने होंगे। 
  • भारत में डेयरी उद्योग आजीविका का एक बहुत अच्छा साधन है।
  • अच्छी नस्ल की भैंस खरीद ने में तक़रीबन 45000 से 100000 तक का खर्च आता है।
Images for dairy farming

इसके बारेमे भी पढ़िए –  बिना मिट्टी के उगाए फल और सब्ज़ियां

FAQ –

डेयरी फार्म कैसे स्टार्ट करें?

पहले उसकी सम्पूर्ण जानकरी ले के डेयरी फार्म शुरू करना चाहिए। 

दूध डेयरी प्लांट कैसे खोलें?

आपको अच्छे मुनाफा कमाने के लिए ट्रेनिंग ले करके खोलना चाहिए। 

गाय को कैसे पाला जाता है?

उसकी अच्छे से देखभाल करके पाला जाता है। 

पशु कहाँ से खरीदे ?

डेयरी फार्मिंग के लिए पशु खरीदने के लिए आप epashuhaat.gov.in वेबसाइट पर जा सकते है। 

गाय को कैसे पाला जाता है?

उसकी खाने पिने और रहने की व्यवस्था करके गाय को पाला जाता है। 

गाय को कितना चारा देना चाहिए?

स्वस्थ गाय का वजन 400-450 किलो होता है जोदिन में करीब 8-10 किलो चारा खाती है।

दुधारू गाय को क्या खिलाना चाहिए?

गेहूं का दलिया, चोकर,खली: सरसों और लाही, तिल, मूंगफली, अलसी और बिनौले आदि खिलाने से दूध की मात्रा में वृद्धि होती है।

पशुओं को कैसा चारा देना चाहिए ?

पशुओं को कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और वसा प्रचुर मात्रा में हो ऐसा चारा देना चाहिए।

डेरी फार्मिंग कौन-कौन खोल सकता है ?

कोई भी शुरू कर सकता है इसके लिए वे विभाग में जा कर संपर्क कर सकते हैं

Conclusion –

आपको मेरा How to Start Dairy Farming in India बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये हमने dairy farming business plan

और indian dairy farming से सम्बंधित जानकारी दी है।

अगर आपको अन्य किसी खेत उत्पादन के बारे में जानना चाहते है। तो कमेंट करके जरूर बता सकते है।

Note –

आपके पास india dairy farming, poultry farming या dairy farming near me की कोई जानकारी हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो दिए गए सवालों के जवाब आपको पता है। तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published.