Jade Plant Information | Jade Plant Benefits | कैसे घर में जेड प्लांट उगाएँ

नमस्कार दोस्तों Jade Plants Information | Jade Plant Benefits में आपका स्वागत है। आज हम जेड प्लांट कैसा होता है, जेड प्लांट कैसे उगाएं, जेड प्लांट के फायदे और संपूर्ण जानकारी बताने वाले है। दक्षिण अफ्रीका के मूल निवासी जेड पौधों को अपने मालिकों के लिए अच्छी किस्मत लाने के लिए माना जाता है। जेड प्लांट एक लोकप्रिय रसीला हाउसप्लांट होता है। उसमें मांसल, अंडाकार आकार के पत्ते और मोटे, लकड़ी के तने होते हैं जो छोटे पेड़ की चड्डी के समान होते हैं।

जेड प्लांट कई एशियाई संस्कृतियों में भाग्य, समृद्धि और दोस्ती का प्रतीक माना जाता है। घर में धन का स्वागत करने के लिए सामने के दरवाजे के पास जेड प्लांट रखना अच्छा फेंग शुई माना जाता है। थोड़ी सी आसान देखभाल से यह 3 से 6 फीट लंबा हो सकता है। मगर वह बहुत धीरे-धीरे बढ़ता या विकसित होता है। ऐसा कहे की वह साल में सिर्फ दो इंच बढ़ता है। तो कुछ गलत नहीं है।

Jade plant Care (जेड प्लांट की देखभाल)

  • जेड प्लांट विकसित करने में आसान होते हैं। 
  • वह बहुत अधिक नमी और बीमारियों के लिए अतिसंवेदनशील होते हैं।
  • अधिक गीला एव बहुत अधिक सूखा नहीं रखना चाहिए। 
  • पौधे को  पूरी क्षमता के विकास के लिए भरपूर रोशनी की जरूरत होती है। 
  • जेड पौधों की देखभाल और रखरखाव के बारे में सीखना आसान है। 
  • जेड हाउसप्लांट उगाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण पानी, प्रकाश, तापमान और उर्वरक हैं।
  • पौधों को  प्राकृतिक आकार को बनाए रखने काटना जरुरी है।
  • बागवानी तेलों और कीटनाशकों का उपयोग नहीं करना है।

इसके बारेमे भी पढ़िए – मनी प्लांट पौधे की जानकारी

Jade Plant Images

जेड प्लांट के फायदे एवम उपयोग

  • जेड प्लांट खूबसूरत और आकर्षित होने के साथ घर में कई फायदे के लिएप्रसिद्ध है। 
  • वास्तुशास्त्र के अनुसार जेड प्लांट को घर में लगाने से घर में सुख शांति रहती है। 
  • उसका उपयोग आयुर्वेदिक दवाइयों में किया जाता है। 
  • जेड प्लांट को घर में लगाने से धन की वृद्धि होती है।
  • वास्तुशास्त्र के अनुसार जेड प्लांट घर में सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करता है। 
  • वह नकारात्मक ऊर्जा और वास्तु दोष को दूर करता है।
  • जेड प्लांट घर के वातावरण को स्वस्थ रखता है। 
  • जेड प्लांट को घर में लगाने से रिश्ते मजबूत रहते है। 
  • घर में पति पत्नी के बिच रिश्ते मजबूत बने रहते है।
  • पौधे को आप ऑफिस में भी लगा सकते है। 

Jade Plant Information

कैसे घर में जेड प्लांट उगाएँ
  • वानस्पतिक नाम – Crassula ovata
  • सामान्य नाम – जेड प्लांट,क्रासुला का पौधा
  • पौधे का प्रकार – रसीला
  • परिपक्व आकार – 3-6 फीट लंबा, 2-3 फीट चौड़ा
  • सूर्य एक्सपोजर – पूर्ण सूर्य
  • मिट्टी का प्रकार – सुखी मिट्टी
  • मिट्टी की पीएच – तटस्थ से अम्लीय
  • ब्लूम समय – स्प्रिंग
  • फूल का रंग – सफेद
  • कठोरता क्षेत्र – 11-12 (यूएसडीए)
  • मूल क्षेत्र – दक्षिण अफ्रीका
  • विषाक्तता – कुत्तों और बिल्लियों के लिए विषाक्त

Jade Plant रोशनी

जेड पौधे वैसे तो प्रकाश से बहुत प्यार करते हैं। उसके युवा पौधों को विशेष रूप से उज्ज्वल, अप्रत्यक्ष सूर्य के प्रकाश के संपर्क में आने के लिए उजागर करते है। युवा और बूढ़े जेड पौधों को रोजाना कम से कम चार से छह घंटे धूप मिलनी जरुरी है। मगर पौधे को सीधी किरणों से सुरक्षित रखना जरुरी है। कठोर प्रकाश युवा अपरिपक्व पौधों को नम कर सकता है या पुराने पत्तों को लाल कर सकता है।

Jade Plant Photos

इसके बारेमे भी पढ़िए – बांस की खेती करने की संपूर्ण जानकारी

Jade Plant soil मिट्टी

जेड प्लांट को घर में रखने के लिए मिश्रण पसंद करते समय एक रसीला मिश्रण सबसे अच्छी शर्त है। आदर्श रूप से मिट्टी में थोड़ा अम्लीय पीएच स्तर की होना जरुरी है। अत्यधिक नमी को जमा होने के विकास को रोकने के लिए अच्छी तरह से नाली होना जरुरी है। आप एक सर्व-उद्देश्यीय पॉटिंग मिश्रण प्रयोग करे तो अच्छा हैं। उसमे जल निकासी भी जरुरी है। अतिरिक्त मिट्टी से अतिरिक्त नमी को मिटाने में जेड प्लांट को टेराकोटा या मिट्टी के बर्तन में रख सकते हैं।

जेड प्लांट इमेज

Jade Plant जलवायु

जेड पौधे औसत घरेलू तापमान 65 से 70 डिग्री फ़ारेनहाइट तक पसंद करते हैं। रात और सर्दियों के मौसम में जेड पौधे 55 डिग्री फ़ारेनहाइट तक का वातावरण सह सकते हैं। मगर उसको लंबे समय तक 50 डिग्री फ़ारेनहाइट से नीचे के तापमान में रखना अच्छा नहीं मानाजाता है। उसके बाद उन्हें घर के अंदर ले लेना जरुरी है।

Jade plant propagation रोपण

जेड प्लांट की propagation बहुत आसान है। उसमे नए पौधों को मदर प्लांट के एक पत्ते से आसानी से ले सकते है। ऐसा करने के लिए कटिंग लें जो दो से तीन इंच लंबा होना चाहिए। उसको कुछ दिनों तक गर्म, सूखी जगह पर रखना है। जब पपड़ी बन जाती है। तो कटिंग स्कैब-साइड को रसीले या कैक्टि मिक्स से भरे गमले में लगा देना हैं। उस बर्तन को तेज धूप के साथ गर्म स्थान पर रखना है। बाद में वह कटिंग ने जड़ें बाहर भेज दी होती हैं। कटिंग मिट्टी में मजबूती से जड़ें जमाते ही उसको गहराई से पानी दें और सामान्य देखभाल करें।

Jade Plant Photos

इसके बारेमे भी पढ़िए – आलू की उन्नत खेती कैसे करें जानकारी

Jade plant fertilizer उर्वरक

बहुत से लोग अपने रसीलों या जेड प्लांट को उनके बढ़ते मौसम के समय कम खाद खिलाते हैं। सबसे सफल जेड प्लांट के लिए उसे सीजन की शुरुआत में या कमजोर तरल घोल के साथ साप्ताहिक रूप से नियंत्रित रिलीज़ उर्वरक देना जरुरी है। परिपक्व पौधों पर एक चौथाई का संतुलित 20-20-20 उर्वरक का प्रयोग करना चाहिए। उसके अलावा आप युवा पौधों पर कम नाइट्रोजन वाले उर्वरक का प्रयोग कर सकते है।

Repotting jade plant रिपोटिंग

जेड प्लांट की फोटो गैलरी
  • जेड प्लांट को जरुरत के मुताबिक दोबारा लगाएं। 
  • गर्मी के मौसम में पौधे को दोबारा लगाने की जरुरत होती है। 
  • पुन: रोपण से पहले मिट्टी सूखी रखना है। 
  • उसके बाद जेड प्लांट को गमले से धीरे से हटा देंना है।
  • प्लांट की पुरानी मिट्टी को जड़ों से दूर करदेना है। 
  • उसमे से सड़ी हुई या मृत जड़ों को निकालना है। 
  • पौधे को उसके नए गमले में रखें और पॉटिंग मिट्टी के साथ बैकफिल करदे। 
  • जैसे ही आप रेपोट करते हैं जड़ों को फैला देंना। है 
  • दो सप्ताह के लिए पौधे को सूखने के लिए छोड़ देंना है। 
  • उसके बाद जड़ सड़ने से बचाने के हल्के से पानी देना शुरू करें।

Common Pests and Diseases कीट और रोग

अच्छी परिस्थितियों में उगाए जाने पर जेड पौधों में कुछ कीट, रोग की समस्याएं होती हैं।

पत्ती के धब्बे, झुर्रीदार, सिकुड़े हुए या गिरे हुए पत्ते पानी के नीचे आने का संकेत हो सकते हैं। पौधों को अच्छी तरह से पानी देंना है।

नरम स्क्विशी पत्तियां अतिवृष्टि का एक लक्षण हैं। पानी कम करें और पानी के बीच में मिट्टी को पूरी तरह सूखने दें।

बौने या फलीदार पौधे पर्याप्त प्रकाश नहीं होने का संकेत हैं। पौधों को खिड़की में रखें घंटों तक सीधी धूप देना है।

पत्तियों के नीचे काले रंग के छल्ले ब्लैक रिंग रोग में पौधों को नहीं मारता है। उसको फैलने से रोकने के लिए प्रभावित पत्तियों को हटा दें।

पीले हल्के हरे रंग के पत्ते तब होते हैं जब पौधा ऊंचा हो जाता है। बीमार, टेढ़े-मेढ़े और क्रॉसिंग शाखाओं को वापस ट्रंक में हटा दें।

पत्तियों पर सफेद धब्बे अधिक पानी, ख़स्ता फफूंदी या मैली बग का संकेत दे सकते हैं।

गिरे हुए पत्तों से छाले जड़ सड़न का संकेत हो सकते हैं। जल निकासी में सुधार के लिए मिट्टी में अतिरिक्त रेत मिलाएं।

भूरे और मटमैले पौधे के ऊतक बैक्टीरिया के नरम सड़न का लक्षण हैं। उसमे पूरे पौधे को निकाल देना अच्छा है।

Jade Plant Photos

इसके बारेमे भी पढ़िए – लहसुन खेती कैसे करें उसकी संपूर्ण जानकारी एवं फायदे

Is the Jade Plant Poisonous जहर

यह सुंदर जेड प्लांट खतरनाक भी हो सकते हैं। अगर आपके घर में छोटा बच्चा, कुत्ता या बिल्ली है। तो आपको सावधानी रखनी चाहिए। क्योकि पौधे के सभी भागों को विषाक्त माना जाता है। उसके सेवन करने पर मृत्यु भी हो सकती है। अगर कोई यह पौधे को खा जाता है। तो आपको तुरंत एक आपातकालीन पशु चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए। जहर के लक्षण दिखाई देते है जो हमने निचे बताए है।  

  • दुर्बलता
  • उल्टी
  • मांसपेशी समारोह का नुकसान
  • सुस्ती
  • बढ़ी हुई आक्रामकता
  • अत्यधिक नींद
  • असमन्वय
  • डिप्रेशन

How to Grow Jade Plant in Hindi Video

Interesting Fact

  • जेड प्लांट एक लोकप्रिय रसीला हाउसप्लांट है। 
  • उसमें मांसल, अंडाकार आकार के पत्ते और मोटे लकड़ी के तने होते हैं। 
  • जेड प्लांट बहुत ही सुन्दर एव आकर्षक होता है। 
  • भारतीय वास्तुशास्त्र के अनुसार घर में लगाना बहुत शुभ माना जाता है।
  • जेड प्लांट पुरे साल हरा भरा रहता है। 
  • जेड प्लांट बिना मांग वाले और विकसित करने में आसान होते हैं। 
  • उसके युवा और बूढ़े प्लांट को रोजाना कम से कम चार से छह घंटे धूप मिलनी चाहिए। 

FAQ

Q .जेड प्लांट कैसा होता है?

जेड प्लांट एक लोकप्रिय रसीला हाउसप्लांट जिसे क्रासुला प्लांट भी कहते हैं।

Q .जेड प्लांट को कैसे लगाएं?

जेड प्लांट को विकसित करना आसान होता हैं। 

Q .जेड प्लांट का पौधा किस दिन लगाना चाहिए?

आप कोई भी दिन जेड प्लांट का पौधा लगा सकते हैं।

Q .जेड प्लांट लगाने से क्या होता है?

जेड प्लांट को घर में लगाने से रिश्ते मजबूत होते है। वह सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करते है। 

Q .जेड प्लांट में कौन सी खाद डालें?

जेड प्लांट लगाने के गोबर की खाद या वर्मी कंपोस्ट का मिक्स होना चाहिए।

Conclusion

आपको मेरा Jade Plants Information | Jade Plant Benefits बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये हमने Jade Plant benefits, Jade Plant meaning और Jade Plant scientific name से सम्बंधित जानकारी दी है।

अगर आपको अन्य किसी खेत उत्पादन के बारे में जानना चाहते है। तो कमेंट करके जरूर बता सकते है।

Note

आपके पास Where to place jade plant in home या Types of jade plant की कोई जानकारी हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो दिए गए सवालों के जवाब आपको पता है। तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद।

Google Search

Jade bonsai plant, Jade Plant flowers, How to take care of jade plant, How to propagate jade plant, How to care for jade plant, Succulent plants, Succulents, Benefits of jade plant, Care jade plant, Jade Plant caring, Jade Plant types, Jade Plant pruning, Jade Plant care, Jade Plant in water, लकी प्लांट, जेड प्लांट के फायदे, क्रासुला का पौधा किस दिन लगाना चाहिए, जेड प्लांट हिंदी नाम, जेड प्लांट केयर in Hindi, बम्बू प्लांट कैसे लगाये, पौधों की कटिंग कैसे लगाएं

इसके बारेमे भी पढ़िए पॉली हाउस में खेती करने की पूरी जानकारी एवं फायदे

Leave a Reply

Your email address will not be published.