How To Grow Romanesco Cauliflower | रोमनेस्को फूलगोभी कैसे उगाएं ?

What is Romanesco?

How To Grow Romanesco Cauliflower ? अजीबोगरीब दिखने वाली यह सब्जी पहली झलक देखकर आप हैरान रह जायेंगे। आज हम बताएँगे की रोमनेस्को क्या है? नियॉन हरा रंग साफ नहीं अस्पष्ट है एव सिर असमान रूप से नुकीला दिखाई देता है। ऐसा लगता है की यह मंगल ग्रह से जैसा प्रतीत होता है। वास्तव में यह कुल परिवार का सदस्य है। जिसमे ब्रोकोली, जिसमें गोभी और ठंडे मौसम वाली सब्जियां होती हैं। रोमनेस्को फूलगोभी की तरह विकसित होता और बढ़ता है। जैसे मोटे डंठल, चौड़े, खुरदुरे पत्ते हुआ करते है। केंद् सिर बड़ा हुआ करता है। पौधा 2 फीट (61 सेंटीमीटर) व्यास में विकसित हो सकता है। रोमनेस्को को उगाने के लिए बड़ी जगह होनी चाहिए। उनके विशाल सिर को विकसित करने हेतु कई प्रकार के पोषक तत्वों की जरुरत रहती है। 

इसके बारेमे भी पढ़िए –  कृषि क्या है, कृषि का अर्थ एवं परिभाषा

romanesco cauliflower images

How To Grow Romanesco Cauliflower

पिरामिड की तरह दिखने वाली Romanesco Cauliflower की आज बात करने वाले है। अपने विचित्र खास बनावट के कारण यह गोभी को दुनिया भर के लोग रोमनेस्को कॉलीफ्लावर को रोमनेस्को ब्रॉकली के नाम से भी पहचानते है। आज मार्केट में अपने खास और अलग दिखने के कारन ही यह गोबी 2200 प्रति रुपया किलो के भाव से बिकने में सक्षम है। आपको बतादे की रोमनेस्को कॉलीफ्लावर सिर्फ खाने में ही स्वादिष्ट नहीं हुआ करती है। लेकिन पोषक तत्वों से भरपूर है। उनके पोषक तत्व की बात करे तो उसमे कैरोटिनॉयड्स, डायटरी फाइबर्स, विटामिन K और विटामिन C से भरपूर गोबी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद रहती है। 

रोमनेस्को कॉलीफ्लावर का वैज्ञानिक नाम ब्रैसिका ओलेरासिया है। यह प्रजाति के तहत सभी लोग केल, ब्रोकोली, पत्ता गोभी और गोभी के फूल उगाया करते थे। प्राचीन इतिहास के अनुसार यह गोभी का प्रयोग सबसे पहले तक़रीबन 16वीं सताब्दी में इटली में शुरू हुआ था। गोभी की सब्जी प्रजाति से बिलॉन्ग करने वाली यह गोभी मूल रुप से इटली में दिखाई देती थी। मगर अब अमेरिका, जर्मनी और फ्रांस जैसे देशों में भी यह सब्जी का इस्तेमाल शुरू हुआ है। उसके स्वाद की बात करे तो यह बिलकुल मूंगफली की तरह सा लगता है। उसका प्रयोग पकाकर या फिर सलाद में कच्चा भी कर सकते है।

Sowing Romanesco Cauliflower Seed –

रोमनेस्को कॉलीफ्लावर की बुवाई वसंत से मध्य ग्रीष्म ऋतु में होती रहती है। सभी सब्जीयो की तरह, रोमनस्को फूलगोभी को भी उपजाऊ बीज वाली क्यारी में यानि पॉटिंग मिट्टी में बुवाई सबसे अच्छी मानी जाती है। उसका उदार आकार का उपयोग करना सबसे अच्छा रहता है। जिससे खेती के लिए सबसे स्वस्थ पौधे पैदा करने में मदद मिलती है। समय से बाहर रोपण करने में जड़ की खराबी को खत्म करता है। एक सेल आकार के लिए 5 सेमी (2 इंच) के चास रखने चाहिए। बिना गरम किए हुए ग्रीनहाउस यानी ठंडे फ्रेम के संरक्षण में ही उसकी रोपाई शुरू करें।

green cauliflower

उसके बीज को तक़रीबन 1cm (0.5in) गहरा बोएं, प्रति खड्डे में दो से तीन बीज जरूर बोएं । रोमनेस्को कॉलीफ्लावर सभी अंकुरित हो जाते हैं। बाद में उन्हें मजबूत अंकुर छोड़ने के लिए पतला कर सकते है। थोड़ी गर्माहट में वह कम से कम चार दिनों में बहार निकल सकते हैं। मगर दो सप्ताह के समय के बाद ही उन्हें पतला कर सकते है। उनके बीजों को अंकुरित होने के समय में न्यूनतम तापमान 10°C/50°F की जरुरत होती है। मगर एक बार जब अंकुरित हो जाते तो दिन का तापमान 7°C/45°F के आसपास रहे तो कोई दिक्कत नहीं रहती है।

पौधे बड़े होने के बाद –

युवा वनस्पति पौधे को कवर के नीचे लगाए जाने से पहले उन्हें सख्त करना जरुरी होता है। क्योकी सीधी गर्मी से ठंड में तत्काल संक्रमण से परेशान होने से रोक सके। समशीतोष्ण विभागों में या धीमी सर्दी के मौसम में सख्त होना विशेष रूप से महत्वपूर्ण कहा जाता है। पौधों को सख्त करने के लिए। पौधे को दिन के समय के दौरान बाहर छोड़ दें और रात में उन्हें वापस कवर के नीचे करले। थोड़े दिन जैसे की एक से दो सप्ताह के समय में पौधों के दरवाजे से बाहर होने की अवधि को बढ़ादे ।

Romanesco Cauliflower

इसके बारेमे भी पढ़िए –  ड्रैगन फ्रूट की उन्नत खेती कैसे करे

Planting Out Strong Seedlings –

आपको बतादे की रोमनस्को फूलगोभी को उगाने के लिए उपजाऊ मिट्टी की जरुरत होती है। सर्दियों के मौसम में अच्छी तरह सड़ी हुई खाद डालना चाहिए । उसके रोपण के समय हड्डी के भोजन और जैविक उर्वरक की अंतिम हड़बड़ाहट मजबूत जड़ वृद्धि को जल्द ही विकसित करने के लिए मदद करता है। जब पौधे १०-१५ सेंटीमीटर (४-६ इंच) लंबे हो जाएं तब अंतिम स्थान पर आ जाएंगे । एक दूसरे पौधे की दूरी जितनी करीब होगी, दही छोटे होंगे। इसलिए आप पर निर्भर करता है कि आप दूर या पास पौधे लगाते हैं। आपको पौधों के बीच 60 सेमी (2 फीट) और पंक्तियों के बीच 60-90 सेमी (2-3 फीट) जगह रखनी होती है। यह आपको बहुत जगह लगती होगी मगर यही ठीक है। आप हमेशा जल्दी-से-परिपक्व फसल, उसके अंदर सलाद पत्ते या मूली, पंक्तियों के बीच में बो सकते हैं।

उन्हें रोपने के लिए, हर पौधे के लिए एक छेद खोदें फिर रूट बॉल को उसके मॉड्यूल से हटा दें, जड़ों को जितना संभव हो सके कम मरोड़े और परेशान करें। अच्छी तरह से जड़ों के आसपास की मिट्टी को और अधिक व्यवस्थित करने के लिए जमीन को अच्छी तरह से पानी देकर पौधे के चारों ओर मिट्टी को ठीक करले। एक बार जब पौधे मुश्किल से निकल जाते हैं, अपने इतालवी आकर्षण को शुष्क मौसम में अच्छी तरह से पानी पिलाएं यानि पत्तियों को छींटे से बचने के लिए पौधे के आधार पर पानी और कीट कीटों जैसे कि कटवर्म की जांच और उपचार भी जरूर करें

Cooking Romanesco Cauliflower

जब रोमनस्को फूलगोभी तैयार होने यानि पकने की बात आती है, तो उसमे ज्यादा से कम होता है। कटे हुए दही को केंद्रीय डंठल को काटने से प्रथम उन्हें ठंडे पानी में धो दीजिये जिससे अलग-अलग फूल करने में मदद मिले। तैयार गोबी के फूलों को उबलते नमक के पानी के एक पैन में डुबोएं हुए तक़रीबन पांच मिनट से अधिक नहीं पकाएं। उन्हें आप स्टीम भी कर पाते हैं। एक शानदार और मजेदार सब्जी के लिए आपको नमक और काली मिर्च के साथ आपको मक्खन के एक घुंडी के साथ खाना चाहिए और फ़्लोरेट्स परमेसन चीज़, भुना हुआ लहसुन और नींबू के रस के साथ स्वादिष्ट अनुभव ले सकते है। सलाद की बनावट के लिए फ्लोरेट्स को कच्चा भी परोस सकते है।

broccoflower

Romanesco Broccoli Care –

  • रोमनस्को फूलगोभी के पौधों को देखभाल की जरुरत रहती है। 
  • उसमे फूलगोभी या ब्रोकोली की आवश्यकता होती है। 
  • शुष्क परिस्थितियों के प्रति रोमनस्को के पौधे सहनशील होते हैं। 
  • उनकी पत्तियों पर फफूंद की समस्या को रोकना बहुत आवश्यक होता है। 
  • पानी देने के दौरान दो बार पौधों को खाद के साथ तैयार करना चाहिए। 
  • आपको पानी में घुलनशील उर्वरक के साथ खाद देना चाहिए।  
  • जब पौधे पर सब्जी आपके मनचाहे साइज की होजाये उससे काट लेना चाहिए।  
  • काट कर यह सब्जी को ठंडी सूखी जगह पर संग्रह करके बाजार में भेज सकते है।  
  • ब्रोकली रोमनेस्को सब्जी ग्रिल्ड, स्टीम्ड, ब्लैंच्ड या सिर्फ सलाद में उपयोग कर सकते है। 
  • यह गोबी मे से आप अपनी पसंदीदा सब्जी के व्यंजन बना सकते है। 

Romanesco Pests and Problems –

यह सब्जी को उगने के साथ साथ  मावजत  करनी चाहिए कीटों और रोगों की बात बताये तो जैसे गोभी की जड़ पिस्सू बीटल, मक्खी, गोभी सफेद तितलियों / कैटरपिलर, क्लब रूट से नुकसान होने से बचते है उन्हें भी इसी सभी से बचाना चाहिए। 

रोमनेस्को फूलगोभी

Romanesco Recipes –

  • भुनी हुई फूलगोभी रेसिपी
  • फूलगोभी कूसकूस रेसिपी
  • जंगली लहसुन और ब्रैसिका रिसोट्टो पकाने की विधि
  • मीठे हरे अचार की रेसिपी
  • वेजिटेबल स्ट्रोगनॉफ रेसिपी
  • वेजिटेबल और रेड बीन पिलाउ रेसिपी
  • पकौड़ी के साथ वेजिटेबल हॉटपॉट रेसिपी
  • फूलगोभी और लीक ग्रेटिन रेसिपी
  • सब्जी की थाली पकाने की विधि
  • फूलगोभी के पकौड़े पकाने की विधि

How To Grow Romanesco Cauliflower Video –

Interesting Fact –

  • रोमनस्को फूलगोभी की बुवाई अप्रैल-जुलाई में करनी चाहिए लेकिन मई माह सबसे अच्छा है। 
  • पौधे को पॉट-बाउंड होते बचाने के लिए पॉट एव मॉड्यूल में बहुत तेजी से बोएं। 
  • रोपण करते समय, प्रत्येकपौधे में 60 सेमी का अंतर जरूर रखना चाहिए। 
  • उबलने से रोमनस्को फूलगोभी का कुरकुरापन और स्वाद खो जाता है। 
  • फूलगोभी पनीर में, या सिर्फ पिघले हुए मक्खन के साथ खाया जाता है। 
  • गार्डन मेरिट का आरएचएस अवार्ड जीतने वाली रोमनस्को लगातार अच्छे परिणाम देती है। 

इसके बारेमे भी पढ़िए –  कृषि क्या है, कृषि का अर्थ एवं परिभाषा

FAQ –

Q : क्या रोमनस्को को उगाना आसान है?

Ans : हा रोमनस्को को उगाना बहुत ही आसान है मगर कुछ सावधानिया रखनी चाहिए। 

Q : रोमनस्को ब्रोकोली को बढ़ने में कितना समय लगता है?

Ans : यह रोमनस्को ब्रोकोली को तैयार होने में तक़रीबन 90 से 120 दिन का समय लगता है। 

Q : रोमनस्को को बढ़ने में कितना समय लगता है?

Ans : रोपण के लगभग 75 से 100 दिनों के समय में रोमनस्को कटाई के लिए तैयार हो जाता है।

Q : क्या आप रोमनेस्को को गमलों में उगा सकते हैं?

Ans : हा बिलकुल ऊगा सकते है, पौधों को एक ढीले, हल्के पॉटिंग मिश्रण की जरुरत होती है। जिससे नमी और पोषक तत्व मिलना जरुरी है। 

Q : क्या फूलगोभी के बगल में कुछ लगा सकते है?

Ans : फूलगोभी के बगल में आप चुकंदर, ब्रॉकली, ब्रसल स्प्राउट, चर्ड, पालक, खीरा, मक्का और मूली लगा सकते है। 

Q : क्या रोमनस्को फूलगोभी आपके लिए अच्छी है?

Ans : हा रोमनस्को फूलगोभी सेहद के लिए बहुत अच्छी साबित होती है। 

Q : रोमनस्को फूलगोभी या ब्रोकोली है?

Conclusion –

आपको मेरा How To Grow Romanesco Cauliflower बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये हमने romanesco cauliflower taste , romanesco cauliflower season

और romanesco cauliflower in hindi से सम्बंधित जानकारी दी है।

अगर आपको अन्य किसी खेत उत्पादन के बारे में जानना चाहते है। तो कमेंट करके जरूर बता सकते है।

Note –

आपके पास romanesco cauliflower in india,
romanesco cauliflower cheese की जानकारी या romanesco cauliflower pasta की कोई जानकारी हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो दिए गए सवालों के जवाब आपको पता है। तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.